Wednesday, January 25, 2017

नवब्रह्मणवाद 5

Dilip C Mandalनंदिनी, बेला आदि को बथानी टोला आदि के नरसंहारियों के साथी बताने वाली पोस्ट पर अपने अनुयायियों की मां-बहन की गालियां आपने शायद नहीं पढ़ा? यहां तो कोई गाली नहीं दे रहा है, यही कहा जा रहा है कि दलित-वाम एकता तोड़कर आप फासीवादी गिरोह को मदद कर रहे हैं. आपने दलितों की लड़ाई का नेतृत्व के लिए कोई जनमतसंग्रह किया है? लक्ष्मणपुर बाथे आदि नरसंहार नक्सल नरसंहार थे. शासक वर्ग शासक जातियां एक ही रहे हैं. आप सारे वामपंथियों को जातीय सर्टिफेकेट बांटकर प्रकारांतर से मोदी के लठैत का ही काम कर रहे हैं. उप्र में यादव बाहुबलियों द्वारा दलित उत्पीड़न पर आपने कभी कुछ लिखा? मैंने उदाहरण देकर आपकी पोस्ट पर लिखा कि वहां दलित उत्पीड़न सवर्ण गुंडे नहीं यादव गुंडे कर रहे हैं. मैं कई बार लिख चुका हूं विचार और काम की बजाय जन्म के आधार व्यक्तित्व का मूल्यांकन ब्राह्मणवाद का मूल मंत्र है वही आप कर रहे हैं इसीलिए आप नवब्राह्मणवादी हैं और ब्राह्मणवाद को मजबूत कर रहे हैं. सादर.

No comments:

Post a Comment