Friday, July 28, 2017

फुटनोट 105 (गोभक्ति)

Sudhanshu Kumar मैं तो भैंस और बकरी का भी दूध पीता हूं। वे भी मां नहीं हैं। आजकल हल चलना बंद हो गया है और गोपुत्र किसानों की आफत बने हैं। गाय आपकी मां है तो भैंस-बकरी क्यों नहीं? आपने भैंस का दूध कभी नहीं पिया? एक दुधारी पशु आपकी मां है दूसरी क्यों नहीं? वैसे पॉलीपैक दूध में पता नहीं होता कि वह गाय का है या भैंस का या सोयाबीन का। अब विदा लीजिए बहुत समय नष्ट कर दिया आप पर।

No comments:

Post a Comment