Saturday, October 29, 2016

फुटनोट 81

वैसे आप किसी अमेरिकी कंपनी की टीवी लेलें. इससे एक तो चीनी टीवी के देशद्रोह के आरोप से बरी रहेंगे दूसरे भूमंडलीय पूंजी मे उतना ही योगदान देंगे. मेरे घर में तो शायद किसी जापानी कंपनी की टीवी 1996 से चल रही है. ये चीनी-जापानी के फेर में डाल कर भूमंडलीय पूंजी का रास्ता निष्कंट करना चाहते हैं जिसका न तो श्रोत के अर्थों में कोई मुल्क है, न निवेश के अर्थों में.

No comments:

Post a Comment