Sunday, August 30, 2015

फुटनोट 47

मेरा नाम ईश मिश्र है. नाम का दूसरा अंश मेरे जन्म की जीववैज्ञानिक  दुर्घटना का परिणाम है जिसमें मेरा कोई हाथ नहीं है. वर्णाश्रमी तथा कॉरपोरेटी सामाजिक न्यायवादी दोनों ही प्रजाति के लोग विमर्श में तर्क न होने पर मेरे नाम के मिश्र को लेकर निजी आक्षेप करने लगते हैं. आवेश में उन्हीं की भाषा में न जवाब दूं, इसलिए कइयों को ब्लॉक कर देता हूं. फौरी जवाब का एक नमूनाः

Prashant Vikramअाप रामविलासी दलित मालुम पड़ते है तथा बिना शाखा गये भाषा की संघी बदतमीजी में माहिर हैं. जन्म के अाधार पर व्यक्तित्व का मूल्यांकन ब्राह्मणवाद का मूल मंत्र है जो भी यह कमीनापन करता है वह ब्राह्मणवादी है. रही बात मेरी बखिया उधेड़ने की तो आप जैेसे टुच्चों को कई जन्म लेना पड़ेगा. मैं कौन हूं यही जानने में अाप जैसे संघी जहालत की मानसिकता वाले को पूरी ज़िंदगी खर्च करनी पड़ेगी. अाप तो कॉरपोरेटी दलाली की राजनीति में ज़िंदगी खींचिये. निजी अाक्षेप करने वाले चीकटों को मैं ब्लॉक कर देता हूं. अलविदा.

No comments:

Post a Comment